भारत की एनएसजी दोवदारी से डर रहा है पाकिस्तान

 

इस्लामाबाद । भारत की न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप यानी एनएसजी में बढ़ती दावेदारी ने पाकिस्तान की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। इस मसले पर पाकिस्तान बुरी तरह से भयभीत है। पाकिस्तान को इस बात का भय सता रहा है कि ताकतवर देश कमजोर देशों को भारत के पक्ष में होने के लिए दबाव बनान सकते हैं।
ऐसी स्थिति में पाकिस्तान को डरना लाजमी है क्योंकि यदि एनएसजी पर भारत और पाक के आवदेन के बीच भेदभाव हुआ तो दक्षिण एशिया में रणनीतिक संतुलन बिगड़ सकता है।

इस स्थिति पाकिस्तान की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हालत और भी दयनीय हो सकती है। पाकिस्तान अधिकारियों का मानना है और उन्हें इस बात की भी चिंता है कि ताकतवर देश भारत के साथ खड़े नजर आ रहे हैं। ऐसी स्थिति में वे एनएसजी में भारत के प्रवेश की कसौटियों में भारत को इससे अलग रखने के लिए छोटे-छोटे देश पर दबाव बना सकते हैं।

लेकिन दूसरी और दुनियां को दिखाने के लिए पाकिस्तानी विदेश विभाग के अधिकारी कामरान अख्तर का कहना है कि उन्हें इस बात का पूरा भरोसा है कि एनएसजी देश कसौटियों पर किसी प्रकार का कोई समझौता नहीं करेंगे। और यदि कहीं ऐसा हुआ तो फिर पाकिस्तान पर ही इसके परिणाम देखने को नहीं मिलेंगे बल्कि दूसरे गैर परमाणु हथियार वाले देशों पर भी असर होगा। परमाुण ऊर्जा के शांतिपूर्ण इस्तेमाल के अपने अधिकार से वंचित भी होंगे।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *