अमित शाह की चुनावी रैली में सांसद ने कह दिया कि मोदी के पास दलितों और पिछड़ों के लिए नहीं है कोई विजन

0
194

कर्नाटक में अमित शाह के भाषण का भाजपा सांसद ने किया अनुवाद- मोदी देश को बर्बाद कर देंगे

बेंगलुरू। इस साल मई में होने वाले कर्नाटक विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए राज्य में लगातार रैलियां कर रहे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के भाषण का उनकी ही पार्टी के सांसद ने कन्नड़ में गलत अनुवाद कर दिया। शाह ने रैली में हिन्दी में बोलते हुए कांग्रेस की सिद्धारमैया सरकार पर निशाना साधा लेकिन उनके भाषण का अनुवाद कन्नड़ में कर जनता तक बात पहुंचा रहे धारवाड़ से भाजपा सांसद प्रह्लाद जोशी ने कह दिया कि मोदी के पास दलितों और पिछड़ों के लिए कोई विजन नहीं है और वो देश को बर्बाद कर देंगे।

दवानागिरी रैली में गलत अनुवाद
अमित शाह के भाषण के गलत अनुवाद का ये मामला दवानागिरी रैली का है। यहां अमित शाह हिन्दी में बोल रहे थे और धारवाड़ से भाजपा सांसद प्रह्लाद जोशी उसको कन्नड़ तर्जुमा कर जनता के बीच रख रहे थे। अमित शाह ने कर्नाटक की कांग्रेस सरकार और मुख्यमंत्री सिद्धारमैया पर हमला बोलते हुए कहा कि इस सरकार कर्नाटक में विकास का कोई काम नहीं किया इसलिए आप पीएम मोदी पर विश्वास करें और भाजपा को वोट दें। अमित शाह के भाषण को ट्रांसलेट करते हुए प्रह्लाद जोशी ने कहा कि पीएम मोदी देश के गरीब, दलित और पिछड़ों के लिए कुछ नहीं करने वाले, वो देश को बर्बाद कर देंगे. आप उन्हें वोट दीजिये।

येदुरप्पा को बता चुके भ्रष्टाचारी
कर्नाटक में अमित शाह के साथ इससे पहले भी ऐसा ही मामला हो चुका है। मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेस में शाह अपनी ही पार्टी के सीएम कैंडिडेट बीएस येदुरप्पा को भ्रष्टाचार में नंबर वन बता बेठे थे। प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमित शाह सिद्धारमैया सरकार के भ्रष्टाचार को गिना रहे थे। इस दौरान अमित शाह ने कहा कि मैं भ्रष्टाचार को लेकर डिटेल में नहीं जाना चाहता लेकिन हाल ही में एक जज की टिप्पणी बताऊंगा। शाह ने कहा, अभी-अभी सुप्रीम कोर्ट के एक रिटायर्ड जज ने कहा कि भ्रष्टाचार के लिए अगर स्पर्धा कर ली जाए तो येदुरप्पा सरकार को भ्रष्टाचार में नंबर वन का अवॉर्ड देना पड़ेगा।

पहले भी हो चुकी है गड़बड़ी
चित्रदुर्ग रैली में भी गड़बड़ इससे पहले भाषा को लेकर अमित शाह की चित्रदुर्ग रैली में भी गड़बड़ हो चुकी है। यहां वो हिन्दी में भाषण दे रहे थे। हिंदी में उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या आप येदुरप्पा को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं? रैली में मौजूद लोग इसे समझ नहीं पाए और सब ना में हाथ हिलाने लगे। इससे शाह के लिए असहज स्थिति पैदा हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here