सजेगा ज्ञान का संसार, 70 हजार पुस्तकों का होगा भंडार

0
63

ग्वालियर । शहर में ज्ञान का संसार सज रहा है। जहां देश के जाने-माने आधा सैकड़ा से अधिक प्रकाशकों की करीब 70 हजार पुस्तकों का भंडार होगा। ज्ञान के संसार का यह नजारा आपको देखने को मिलेगा राष्ट्रीय पुस्तक मेले में। जिसका आयोजन मानव संसाधन विकास मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय पुस्तक न्यास, नगर निगम एवं जिला प्रसाशन ग्वालियर के सहयोग से लक्ष्मीबाई समाधि के सामने स्थित मैदान में 12 से 20 मई तक किया जाएगा। पुस्तक मेले में प्रवेश पूर्णतः निःशुल्क रहेगा।
पवैया करेंगे शुभारंभ
उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया 12 मई शनिवार को शाम 6.30 बजे पुस्तक मेले का शुभारंभ करेंगे। इस अवसर पर महापौर विवेक नारायण शेजवलकर, अति विशिष्ठ लेखक के तौर पर श्रीधर पराड़कर, राष्ट्रीय पुस्तक न्यास के अध्यक्ष डॉ. बलदेव भाई शर्मा तथा कलेक्टर राहुल जैन भी प्रमुख रूप से मौजूद रहेंगे।
नामी लेखकों की पुस्तकों का होगा प्रदर्शन
राष्ट्रीय पुस्तक न्यास, भारत के सहायक निदेशक मयंक सुरोलिया ने बताया कि इस पुस्तक मेले में हिंदी, अंग्रेजी व उर्दू के 40 प्रकाशकों द्वारा नवीनतम प्रकाशनों यानी पुस्तकों का प्रदर्शन किया जाएगा। साथ ही पुस्तकें विक्रय के लिए आम पाठकों के लिए उपलब्ध रहेंगीं।
मेले में होंगी अनेक गतिविधियां
पुस्तक मेले में सुबह के सत्र में बच्चों से जुड़ी गतिविधियों को संचालित किया जाएगा, ताकि बच्चों के मन में सर्जनात्मक क्षमता का विस्तार हो सकें। साथ ही शाम के सत्र में बड़े पाठकों व पुस्तक प्रेमियों के लिए साहित्य सम्वाद जैसे सत्र आयोजित किये जायेंगे, जिसमें महत्वपूर्ण स्थानीय व आस-पास के रचनाकारों को शामिल करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

सुरोलिया ने यह भी बताया कि इस पुस्तक मेले में साहित्य से जुड़े पाठकों के लिए कई सत्रों को रखा गया है जिसमें पाठक अपने प्रिय रचनाकारों से सीधे संवाद कर सकेंगे व उनसे रूबरू हो सकेंगे। पुस्तक मेला रोजाना दोपहर 12 बजे से रात 9 बजे तक पुस्तक प्रेमियों के लिए खुला रहेगा। पुस्तक मेले के दौरान सभी प्रकाशकों, पुस्तक विक्रेताओं द्वारा सभी पुस्तकों की खरीद पर 10 प्रतिशत की छूट दी जायेगी। पुस्तकालयों के लिये भी मेले में विशेष छूट दी जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here