स्वीप कार्यक्रम के समापन पर कलेक्टर ने नागरिकों, मतदाताओं और मीडिया को दिया धन्यवाद

बिलासपुर – जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा चलाए जा रहे मतदाता जागरूकता कार्यक्रम स्वीप का समापन 12 नवंबर को हो जाएगा। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री पी दयानंद ने बताया कि पिछले 2 महीने में मतदाता जागरूकता के लिये लगभग सौ से अधिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। मतदाता जागरूकता कार्यक्रम में जिले के सभी नागरिकों, मतदाताओं और मीडिया के द्वारा द्वारा अभूतपूर्व सहयोग दिया गया। जब हमने मतदाता शपथ पत्र भरवाना शुरु किये तो ये अंदाजा नहीं था कि 2 लाख 10 हजार से अधिक मतदाता शपथ पत्र भरे जाएंगे। जिसे जल्द ही गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में स्थान मिलने जा रहा है। तिफरा स्थित शासकीय दृष्टि एवं श्रवण बाधितार्थ विद्यालय के बच्चों ने जब एक कार्यक्रम मतदाता जागरूकता गीत गाया तो हमने निश्चय किया कि इन्हीं दृष्टि बाधित छात्रों से इस गीत की अच्छे से रिकॉर्डिंग कराएंगे। दृष्टि बाधित बच्चों के मतदाता जागरूकता गीत को सुनने के बाद उस गीत को भारत निर्वाचन आयोग से भी सराहना मिली।

इसके साथ ही हमने मरवाही में विशेष संरक्षित जनजाति बैगाओं के बीच भी मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया। उनके बीच गौरेला विकासखंड के देवरगांव में बैलगाड़ी रैली निकाली गई। बैलगाड़ी के माध्यम से ग्रामीण मतदाताओं को जागरूक करना एक अनूठी पहल रही। विभिन्न विधानसभाओं के शहरी इलाकों में भी कॉलेज छात्र-छात्राओं ने जागरूकता रैलियां निकालीं। बिलासपुर के नेहरु चौक से शास्त्री स्कूल तक सायकिल रैली का आयोजन किया गया। गुरुनानक स्कूल से पुलिस ग्राउंड तक ई-रिक्शा रैली निकाली गई जिसमें सभी प्रमुख जिला स्तर के अधिकारी स्वयं ई-रिक्शा चलाकर शहर को जागरूक करने निकले।

श्री दयानंद ने बताया कि हमारा मुख्य फोकस शहर के  प्रत्येक वर्ग के साथ युवा भी थे। जो कि जागरूकता कार्यक्रमों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। इसी क्रम में रघुराज स्टेडियम में मतदाता जागरुकता क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। सीएमडी कॉलेज में पतंग महोत्सव का आयोजन किया गया जिसकी थीम शत-प्रतिशत मतदान रही। कॉलेजों में छात्र-छात्राओं के बीच वाद-विवाद, निबंध, रंगोली प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं।

जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दयानंद ने बताया कि हमने प्रत्येक पर्व को भी मतदाता जागरूकता कार्यक्रम से जोड़ने की कोशिश की। नवरात्रि के पर्व पर हमने स्मृति वन में स्वीप दीप कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें दीपों से शत-प्रतिशत बिलासपुर लिखकर मतदान का संदेश दिया गया। दशहरा के अवसर पर रावण का दहन किया गया जिसमें दर्शाया गया कि मतदान ना करने के लिये कौन सी बुराईयां प्रेरित करती हैं और किन बुराईयों से हमें बचना है। इसी तरह दीवाली पर बुजुर्ग महिलाओं ने एक दीया मतदान के संकल्प का जलाने की अपील की। हमने दीवाली पर एक और अनोखी पहल की। जिसमें मिठाई दुकानों में मिठाई के डिब्बों पर शत-प्रतिशत मतदान और वोट तो देना ही है के स्टीकर चिपकाए गये। जिससे घर-घर में मतदाता जागरूकता संदेश का बड़े ही प्रभावी ढंग से पहुंचा। कलेक्टर श्री पी दयानंद ने स्वीप कार्यक्रम के समापन पर जिला निर्वाचन कार्यालय की पूरी टीम को बधाई दी और मीडिया के अभूतपूर्व सहयोग के लिये आभार व्यक्त किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *