नामांकन फार्म भरने आये भाजपा नेता पुरन छबरिया को पुलिस ने किया गिरफ्तार..

बिलासपुर – बिलासपुर नगर विधायक एवं प्रदेश के वाणिज्य कर नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल के खिलाफ चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे भाजपा नेता पूरन छाबरिया को नामांकन फार्म खरीदना काफी महंगा साबित हुआ। वही तैनात पुलिस ने ग्रिफ्तार कर थाना सिविल लाइन ले आई.. सोमवार को कलेक्ट्रेट स्थित जिला निर्वाचन कार्यालय में नामांकन फार्म खरीदने आए पेंड्रा के पूरन छाबरिया को पुलिस ने ना सिर्फ डंडों से पीटा बल्कि उन्हें एक पुराने मामले का हवाला देकर कलेक्ट्रेट परिसर से ही गिरफ्तार कर लिया ।गिरफ्तार कर ले जाते समय मीडिया से बात करते हुए उन्होंने मंत्री अमर अग्रवाल के इशारे पर गिरफ्तारी किए जाने का संगीन आरोप भी लगाया।

पुरन छाबरिया ने कहा कि मंत्री के इशारे पर ही उनके भाई के ढाबे में आबकारी और पुलिस विभाग द्वारा छापा भी मारा गया था, जिसमें पुलिस को कोई भी आपत्तिजनक सामग्री बरामद नहीं हुई.. उन्होंने बताया कि पेंड्रा थाने में उनके द्वारा लिखित में शिकायत करते हुए जान माल का खतरा बताते हुए सुरक्षा की मांग भी की गई है.. मंत्री अमर अग्रवाल के खिलाफ टिकट मांगने की वजह से उनके साथ इस तरह का बर्ताव किया जा रहा है ।उन्होंने कहा कि अभी काफी समय है और बिलासपुर विधानसभा से भाजपा की टिकट उन्हें ही मिलेगी ।निर्दलीय चुनाव लड़ने के सवाल पर उनका कहना था कि जब पार्टी टिकट देगी तो निर्दलीय लड़ने का सवाल ही नहीं उठता।

इसके पूर्व दोपहर लगभग 2:00 बजे पूर्ण छाबरिया अपने समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचे जहां उन्होंने बिलासपुर विधानसभा से नामांकन फार्म भी खरीदा था।थाना सिविल लाइन में लाकर रखने के बाद कोटा एसडीओपी अभिषेक सिंह थाना पहुंच कर पुरन छाबरिया को अपने साथ गाड़ी में लेकर पेंड्रा की और निकल गए।।वही थाने में भी यही बात छाबरिया ने कही की बीस साल से पूरे क्षेत्र में अमर अग्रवाल गुंडा गर्दी कर रहा है और जो भी आवाज़ उठाता है उसको दबाने का प्रयास करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *